पुराने जमाने का रहन-सहन कैसा था?

नमस्कार दोस्तो, आज की पोस्ट में आप जानेंगे कि पुराने जमाने का रहन-सहन कैसा था या पुराने जमाने के लोग कैसा जीवन जीते थे वह क्या खाते थे, कहाँ रहते थे उनकी रोज की दिन चर्या क्या थी।
वैसे तो आपने में से बहुत से लोग किताबो में कई बार पढ़ा होगा कि पहले के लोग आदिमानव का जीनव जीते थे लेकिन आदि मानव का वास्तव में मतलब क्या है आदिमानव दो शब्द से मिलकर बना है आदि + मानव जिसका मतलब आधा मानव होता है।
अब यहाँ मानव शरीर के आधे होने का मतलब नही है बल्कि उनकी बुद्धि और विवेक के आधार पर उस समय के मानव को आदिमानव कहाँ जाता है जिसके पास मानव जैसा कोई विकास बुद्धि नही है।

पुराने जमाने में स्कूल क्यों स्थापित किए गए होंगे?

ये Question बहुत कठिन है कि पुराने जमाने में स्कूल क्यों स्थापित किए गए होंगे? लेकिन आज इस Question का आप Answer ढूँढने की कोशिश करे या किसी से पूछे इस बारे में तो जो आज नही भी पढ़ा – लिखा होगा वो भी इसका उत्तर आसान शब्दों में इस प्रकार दे देगा।
कि पढ़ने के लिए पुराने जमाने में स्कूल स्थापित किए गए होंगे लेकिन आप सोचे जब स्कूल नही रहा होगा तब क्या कुछ (1,2 लोग)लोग भी उस जमाने में पढ़े – लिखे होगे मै तो यही समझता हूँ।

ये भी पढ़े –

Masai School क्या है? मसाई स्कूल में प्रवेश (Admission) कैसे लें?

कि जब स्कूल नही रहा होगा तो शिक्षा का नामोनिशान नही रहा होगा ना कोई पढ़ाने वाला और ना कोई पढ़ने वाला।

तो अब बात आती है ये शिक्षा आई कहाँ से क्या कोई व्यक्ति पढ़ा – लिखा पैदा हुआ इन सब बातों का कोई ठोस प्रमाण नही है।

पुराने जमाने का रहन-सहन कैसा था

Leave a Comment